July 18, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

आंगनबाड़ी में तैयार की पोषण वाटिका, गर्भवती महिलाओं के घर तक पहुचाई जाती है सब्ज़ियां।

मित्रों के साथ शेयर करें

आंगनबाड़ी केन्द्र दियागढ़ की कार्यकर्ता मीराबाई कोल की पहल

कटनी, ब्यूरो चीफ मोहित वर्मा,

➡शहीद बिरसा मुंडा की जयंती को राज्य सरकार जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मना रही है। जिले में भी आदिवासी समुदाय से जुड़ी महिलाएं अपने उत्कृष्ट कार्य से जिले का गौरव बढ़ाने में जुटी हैं और जिला प्रशासन की ओर से भी उनके उत्कृष्ट कार्यों पर उनका उत्साहवर्द्धन किया जा रहा है। जिले का आदिवासी बाहुल्य ढीमरखेड़ा क्षेत्र के दियागढ़ की एक आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने पोषण अभियान को चुनौती के रूप में लिया और उसके लिए पहले उन्होंने अपने केन्द्र पोषण वाटिका तैयार की। पोषण वाटिका में तैयार हुई हरी सब्जियों को वे खुद गर्भवती महिलाओं तक पहुंचाने जाती हैं। इतना ही नहीं कुपोषित बच्चों को भी सुपोषित बनाने वे लगातार काम करने में जुटी हुई हैं। यह बेहतर पहल की है दियागढ़ आंगनबाड़ी केन्द्र की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मीरा बाई कोल ने।

कार्यकर्ता मीरा ने अपने केन्द्र में पोषण वाटिका तैयार की है। जिसमें लाल भाजी, पालक, मैथी सहित अन्य पोषणयुक्त सब्जियां लगाई हैं। दियागढ़ आदिवासी ग्राम है और इसके चलते मीरा ने अपने केन्द्र के क्षेत्र की ऐसी गर्भवती महिलाओं व सेम बच्चों के घर में पोषण वाटिका से सब्जियां तोड़कर खुद पहुंचाने जाती हैं। इतना ही गर्भवती व सेम बच्चों के परिजनों को उस दौरान सब्जी के माध्यम से मिलने वाले पोषण की जानकारी देकर जागरूक भी कर रही हैं।

मीरा ने स्नेह अभियान के तहत अपने क्षेत्र के सेम बच्चों का चुनाव कर उन्हें एनआरसी में भर्ती कराया था। बच्चों के एनआरसी से लौटने के बाद भी वे लगातार बच्चों के संपर्क में रहीं और रोज गृह भेंट कर बच्चों को खुद अपने हाथों से पोषण आहार खिलाया। उसका लाभ यह हुआ कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की मेहनत से एनआरसी से लौटे बच्चे अब सामान्य हैं।


मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!