March 1, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

शहडोल जिले में लाॅकडाउन-4 के सुझाव हेतु जिला टास्क फोर्स की बैठक सम्पन्न

मित्रों के साथ शेयर करें

शहडोल: कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट डाॅ. सतेन्द्र सिंह द्वारा कोरोना वायरस संक्रमण (कोविड-19) के बचाव हेतु जिले में चल रहे लाॅकडाउन-3 में शासन के दिशा निर्देशों के पालन की समीक्षा तथा 17 मई के बाद संभावित लाॅकडाउन-4 में आवश्यक सुझावों हेतु जिला स्तरीय टास्क फोर्स समिति की बैठक आयोजित की गई। आयेाजित बैठक में विधायक जयसिंहनगर श्री जयसिंह मरावी, विधायक जैतपुर श्रीमती मनीषा सिंह, नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती उर्मिला कटारे, नगरपालिका अध्यक्ष बुढार श्री कैलाश विश्नानी, पुलिस अधीक्षक श्री सतेन्द्र कुमार शुक्ल, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री पार्थ जायसवाल, वनमण्डलाधिकारी दक्षिण श्री अंकित पाण्डेय, अपर कलेक्टर श्री अशोक ओहरी, अपर कलेक्टर श्री मिलिंद नागदेवे, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सोहागपुर श्री धर्मेन्द्र मिश्रा, डीपीसी डाॅ. मदन त्रिपाठी, श्री कमलप्रताप सिंह, श्री आजाद बहादुर सिंह, श्री लक्ष्मण गुप्ता एवं डाॅ0 बाल्मीक गौतम, श्री विवेक पाण्डेय सहित अन्य प्रतिनिधि उपस्थित थें।

आयोजित बैठक में कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट डाॅ0 सतेन्द्र सिंह ने 17 मई 2020 के बाद संभावित #लाॅकडाउन-4 में आश्वयक सुझावों के लिए सभी से विचार-विमर्श किया। बैठक में मनरेगा के कार्याें को गति देने के लिए चाय, चाट फुल्की, दिहाडी मजदूरो, दर्जी, नाई एवं सैलून की दुकानों आदि को जीवन यापन हेतु दी जाने वाली सहूलियतों, निर्माण कार्य में दी जाने वाली रियायतों रेत परिवहन,रेत की सुलभ उपलब्धता के बारे में सुझाव दिए गए जिसके संबंध में निर्णय बाद में लिया जाएगा। बाजार सुबह 10 बजे से सायं 6 बजे तक खोलने के लिए सहमति बनी। बैठक में कलेक्टर ने कहा कि बैठक में आये सुझावों पर निर्णय योग्य पर शीघ्र निर्णय लिया जाएगा तथा अन्य सुझाव शासन को प्रेषित किये जाएगे। बैठक में यह भी सुझाव आया कि जो मजदूर बाहर से आ गए है उनके लिए रोजगार के नये अवसर बनाए जाए जिससे उन्हें रोजगार मिल सके।

कलेक्टर ने अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सोहागपुर को निर्देशित किया कि खाद्यान्न उठाने के समय रेण्डम बोरियों का वजन भी करवाएं। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ने बैठक में कहा कि जिले में 2900 मनरेगा के कार्य चल रहे है। जिसमें लगभग 36 हजार मजदूर रोजगार प्राप्त कर रहे है आने वाले समय में और भी कार्य बढ़ाए जाएगे जिसमें मेढ़बधान, खेतों संबंधित कार्याें को प्राथमिकता दी जाएगी। जिले में अभी तक लगभग 4 लाख मजदूर तेंदुपत्ता संग्रहण कार्य में लगे हुए है। तेंदुपत्ता संग्रहण का कार्य समाप्त होने पर मनरेगा कार्य में उन मजदूरांे को कार्य दिया जाएगा। कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट ने कहा कि सोशल डिस्टेंसिंग तथा मास्क का उपयोग कर सभी के सहयोग से कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम की लडाई जारी है।


मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!