April 18, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

Diabetes से बचने के लिए मरीज खा सकते हैं ये 4 सब्जियां, कंट्रोल में रहेगा ब्लड शुगर

लो फैट और लो कैलोरी युक्त भिंडी का सेवन डायबिटीज रोगियों के लिए फायदेमंद होता है।
मित्रों के साथ शेयर करें

Diabetes Diet: खराब जीवन शैली से होने वाली बीमारियों में डायबिटीज का नाम प्रमुख रूप से लिया जाता है। बता दें कि खून में ग्लूकोज का स्तर तब बढ़ता है जब शरीर के अहम हिस्से पैन्क्रियाज में इंसुलिन का उत्पादन कम मात्रा में होने लगता है। इससे मरीजों को कई दूसरी परेशानियां हो सकती हैं। ब्लड शुगर का स्तर ज्यादा होने पर आंखें, किडनी, दिल व लिवर पर भी बुरा असर पड़ता है। ऐसे में इस पर नियंत्रण रखना बहुत जरूरी है।

इस रोग से ग्रस्त मरीजों के लिए स्वस्थ खानपान जरूरी है ताकि उनके शरीर में ब्लड शुगर का स्तर ठीक बना रहे। हेल्दी डाइट फॉलो करने से डायबिटीज पर काबू रखना आसान हो जाता है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक मधुमेह रोगियों को डाइट से जुड़ी कई पाबंदियों को झेलना पड़ता है। हालांकि, कुछ सब्जियों का सेवन डायबिटीज के मरीजों के लिए फायदेमंद होगा।

भिंडी: लो फैट और लो कैलोरी युक्त भिंडी का सेवन डायबिटीज रोगियों के लिए फायदेमंद होता है। 2005 के एक अध्ययन के मुताबिक ब्लड में ग्लूकोज की मात्रा कंट्रोल करने में भिंडी का सेवन फायदेमंद होता है। साथ ही, भिंडी का जीआई वैल्यू लो होता है ऐसे में इसे खाने के बाद पोस्ट प्रैंडियल शुगर लेवल काबू में रहता है। साथ ही, वेट लॉस और कोलेस्ट्रॉल पर नियंत्रण रखने में भी भिंडी कारगर होती है। इससे प्री-डायबिटीज का खतरा कम हो सकता है।

ब्रोकली: इसकी गिनती क्रुसिफेरस सब्जी के रूप में की जाती है। ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए डायबिटीज रोगी इस सब्जी का सेवन कर सकते हैं। एक शोध के मुताबिक ब्रोकली एक्स्ट्रैक्ट के इस्तेमाल से रक्त शर्करा पर नियंत्रण रखना आसान होगा। इस सब्जी में सल्फोराफेन पाया जाता है जो लिवर सेल्स में मौजूद ग्लूकोज और ग्लाइकेटेड हीमोग्लोबिन को कम करने में मदद करता है। साथ ही, फास्टिंग ब्लड शुगर कंट्रोल करने में भी मदद करता है।

गाजर: गाजर को अपने डाइट में शामिल करने से रक्त शर्करा के स्तर पर नियंत्रण रखा जा सकता है। गाजर का ग्लाइसेमिक इंडेक्स यानि कि जीआई वैल्‍यू भी कम होता है। डाइटरी फाइबर्स से भरपूर गाजर भोजन को पचाने में अधिक समय लेता है। इस वजह से ब्लड शुगर के लेवल में जल्दी इजाफा नहीं होता। साथ ही, शरीर में मौजूद इन्सुलिन की मात्रा को बरकरार रखने में भी गाजर मदद करता है।

पालक: स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक पालक में कार्बोहाइड्रेट और कैलोरीज की मात्रा कम होती है। साथ ही, ब्लड शुगर कंट्रोल करने में भी इस हरी पत्तेदार सब्जी का सेवन फायदेमंद होता है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक पालक में पॉलीफेनॉल और विटामिन-सी होता है जो रक्त शर्करा पर काबू पाने में मददगार होता है। साथ ही, इसमें प्रचुर मात्रा में मैग्नीशियम होता है जो इंसुलिन रेसिस्टेंस की परेशानी को कम करने में सहायक है।



अपने क्षेत्र के व्‍हाट्स एप्‍प ग्रुप एवं फेसबुक ग्रुप से जुड़ने,
फेसबुक पेज लाइक करने एवं
मोबाईल एप्‍प डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें

कृपया ज्‍यादा से ज्‍यादा शेयर करें। तथा कमेंट में अपने विचार प्रस्‍तुत करें।

सबसे पहले न्‍यूज पाने के लिए नीचे लाल बटन पर क्लिक करके सब्‍सक्राइब करें।

अगर दुनिया से पहले चीजों को जानने का जुनून है, खबरों के पीछे की खबर जानने का चस्का है, आपकी कलम में है वो ताकत, जो केवल सच लिखे, जिसे पढ़ने के लिए लोग बेताब हो।

तो आइये हमारे साथ और अपनी कलम की सच्‍चाई को सबके सामने रखने का मौका आज ही रजिस्‍टर करें हमारे साथ या फिर बिना रजिस्‍टर के भी अपने विचार सबके सामने रख सकते हैं। आपके विचारों को सबके सामने लाने का जिम्‍मा हमारा।

अभी रजिस्‍टर करें

अपने विचार रखें


मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!