March 1, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

सतना-बेला एनएच 75 पर टमस नदी ब्रिज का लोकार्पण~बायपास के बन चुके दो हिस्सों में यातायात हुआ प्रारंभ

सतना सांसद श्री गणेश सिंह जी के अनुसार यातायात व्यवस्था परिवहन सुगम होगी
मित्रों के साथ शेयर करें

सतना-बेला एनएच 75 पर टमस नदी ब्रिज का लोकार्पण~

सतना 01 जुलाई 2021/सतना शहर के बहुप्रतीक्षित सतना-बेला राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 75 पर बायपास मार्ग में टमस नदी पर 32 करोड़ की लागत से निर्मित उच्च स्तरीय पुल का लोकार्पण सांसद श्री गणेश सिंह के मुख्यातिथ्य में किया गया। इसके साथ ही सतना-बेला राष्ट्रीय राजमार्ग के सतना बायपास के बन चुके दो हिस्सों में आज से यातायात भी प्रारंभ कर दिया गया है।

सांसद श्री सिंह ने शिलापट्टिका अनावरण और फीता काटकर टमस नदी के ब्रिज का लोकार्पण और सतना-बदखर मार्ग से बेला-रीवा की ओर जाने वाले नवनिर्मित बायपास मार्ग के यातायात का शुभारंभ किया। मटेहना में आयोजित टमस नदी ब्रिज लोकार्पण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सांसद श्री सिंह ने कहा कि लंबी प्रतीक्षा के बाद इस निर्माणाधीन राजमार्ग की सड़क पर यातायात शुरू हुआ है। बायपास में रेलवे लाइन पर आरओबी का निर्माण पूरा नहीं होने से पूरा बायपास यातायात के लिए उपयुक्त नहीं है। अभी सोहावल मोड़ से चित्रकूट सड़क बगहा तक बन चुके बायपास मार्ग और दूसरे हिस्से में बन चुके सतना-बदखर से रीवा-बेला तक बन चुके मार्ग को यातायात के लिए खोला गया है। रेलवे से ब्लॉक की अनुमति मिलते ही दो-चार माह में आर.ओ.बी का निर्माण पूरा कर पूरे बायपास को यातायात के लिए उपलब्ध करा दिया जाएगा।

सांसद ने कहा कि सतना-बेला राष्ट्रीय राजमार्ग आने वाले भविष्य में व्यवसायिक जगत के लिए लाइफ लाइन बनेगा। सीमेंट कंपनियों एवं अन्य व्यवसायिक संस्थानों के औद्योगिक वाहन एवं भारवाहक वाहनों को नो एंट्री खुलने का इंतजार नहीं करना होगा। सतना-बदखर होते हुए यह वाहन इलाहाबाद, रीवा की ओर जा सकेंगे। उधर सोहावल मोड़ से बगहा चित्रकूट रोड तक बायपास की सुविधा से नागौद, छतरपुर की तरफ से आने वाले वाहन बिना शहर में प्रवेश किए चित्रकूट, बांदा, इलाहाबाद, कानपुर की ओर जा सकेंगे। सांसद श्री सिंह ने बताया कि सबसे पहले वर्ष 2011-12 में बायपास का काम शुरू हुआ, लेकिन ठेकेदार ने बीच में काम छोड़ दिया। केंद्र सरकार और राज्य सरकार के संयुक्त प्रयासों से इस मार्ग के लिए ईपीसी मोड में दोबारा टेण्डर किया गया। जिसके तहत 2016-17 में श्रीजी इंफ्रास्ट्रक्चर में पुनः काम शुरू किया गया। वर्ष 2019-20 इसे पूरा होना था, लेकिन कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन के कारण कार्य पूर्ण करने में विलंब हुआ। बीच का भाग आरओबी के निर्माण के लिये रेल्वे से ब्लॉक लेकर शीघ्र पूर्ण कराया जायेगा।

YouTube video

सांसद श्री सिंह ने कहा कि कृषि उपज मण्डी के किसानों और ट्रांसपोर्टर्स की मांग पर कृषि उपज मंडी के ट्रांसपोर्ट को संतोषी माता मंदिर से बिरला रोड होते हुये बदखर तक आने की अनुमति दिलाई जायेगी। वहीं राष्ट्रीय राजमार्ग-75 के बायपास की सभी सर्विस लेन (रोड) भी बनाई जायेगी। ब्रिज कॉर्पोरेशन के अधिकारियों ने बताया कि सतना-बेला राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक-75 की प्रोजेक्ट लागत 358 करोड़ रूपये स्वीकृत है। 43 किलोमीटर लंबाई के प्रोजेक्ट में सतना बायपास पर टमस नदी पर 32 करोड़ रूपये की लागत से 250 मीटर लंबाई का उच्च स्तरीय पुल बनाया गया है। सतना-बेला प्रोजेक्ट का टमस नदी पर पुल सबसे बड़ा कार्य है। इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य उमेश प्रताप सिंह, जनपद सदस्य धर्मेन्द्र सिंह, एसडीएम रघुराजनगर (सिटी) राजेश शाही, संजय राय, अशोक गुप्ता, विजय तिवारी, भगवती प्रसाद पाण्डेय, रमाकांत गौतम सहित बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।



अपने क्षेत्र के व्‍हाट्स एप्‍प ग्रुप एवं फेसबुक ग्रुप से जुड़ने,
फेसबुक पेज लाइक करने एवं
मोबाईल एप्‍प डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें

कृपया ज्‍यादा से ज्‍यादा शेयर करें। तथा कमेंट में अपने विचार प्रस्‍तुत करें।

सबसे पहले न्‍यूज पाने के लिए नीचे लाल बटन पर क्लिक करके सब्‍सक्राइब करें।

अगर दुनिया से पहले चीजों को जानने का जुनून है, खबरों के पीछे की खबर जानने का चस्का है, आपकी कलम में है वो ताकत, जो केवल सच लिखे, जिसे पढ़ने के लिए लोग बेताब हो।

तो आइये हमारे साथ और अपनी कलम की सच्‍चाई को सबके सामने रखने का मौका आज ही रजिस्‍टर करें हमारे साथ या फिर बिना रजिस्‍टर के भी अपने विचार सबके सामने रख सकते हैं। आपके विचारों को सबके सामने लाने का जिम्‍मा हमारा।

अभी रजिस्‍टर करें

अपने विचार रखें


मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!