March 1, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

कोरोना पर नियंत्रण छोटे स्‍तर से ही संभव है-मुख्यमंत्री

क्या खोलना है क्या बंद करना है इलाज के काम, जनता को कैसे एजुकेट करना है। इसके कारण हमारी एक अद्भुत टीम बन गई।
मित्रों के साथ शेयर करें

मुख्यमंत्री श्री Shivraj Singh Chouhan ने COVID19 की समीक्षा बैठक के पूर्व संबोधित करते हुए कहा कि अगर संक्रमण को नियंत्रित करना था तो हमने ऊपर से नियंत्रित नहीं किया, हमने नीचे से नियंत्रित करने का काम किया। पंचायतों की क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी, वार्ड ब्लॉक और जिले की क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी ने सारा दायित्व सम्भाला। क्या खोलना है क्या बंद करना है इलाज के काम, जनता को कैसे एजुकेट करना है। इसके कारण हमारी एक अद्भुत टीम बन गई।

क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी के काम, कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने की चर्चा पूरे देश में हुई। मप्र मॉडल के नाम से इसे जाना गया। आज मप्र बहुत ही सुखद स्थिति है। बीस जिले ऐसे हैं जहां एक भी पॉजिटिव केस नहीं है। हम लगभग नियंत्रण की स्थिति में पहुंच गए हैं। आपने जनता के साथ जो परिश्रम किया वह अद्भुत है। मैं आप सभी के परिश्रम को प्रणाम करता हूं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी का काम खत्म नहीं हुआ। ये ऐसा ढांचा बन गया है जिसको हम बनाए रखना चाहते हैं। ये काम क्या करेगा इस पर आपके सुझाव चाहता हूं। नंबर एक जरूरत है सावधान रहने की, तीसरी लहर भी दिखाई दे रही है। हम निश्चिंत ना हो जाएं। हम 80 हजार टेस्ट रोज करेंगे। प्रदेश, जिले के हर​ हिस्से में हमें टेस्ट करना है। कोई छिपा पेशेंट भी ना छूटे। पॉजिटिव केस में से प्रत्येक की कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग करेंगे। संपर्क में आए लोगों का भी टेस्ट, जो पॉजिटिव है अभी भी उसे आइसोलेशन में रखें, घर में या कोविड केयर सेंटर हम चलाएंगे वहां रखें। किल कोरोना अभियान अपना चलता रहेगा। गांव में सर्दी, जुखाम, बुखार वहां तत्काल दवाई दें।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जितनी योजनाएं कोविड के अंतर्गत बनाई गई हैं। जैसा मुख्यमंत्री COVID—19 बाल सेवा योजना, कोई ऐसा बच्चा ना रह जाए जिसको इसका लाभ ना मिले। अनुकम्पा नियुक्ति योजना, विशेष अनुग्रह योजना, कोविड उपचार योजना, लागू करवाएं। योग से निरोग अभियान से लोगों को बहुत फायदा हुआ है, इसे जारी रखा जाए।

21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस आ रहा है। अपने क्षेत्र में योग को रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का माध्यम बना सकते हैं। आपके क्षेत्र में प्रयोग कर सकते हैं। पेड़ लगाने के अभियान को गति देना होगी। आप अपने हर गांव में दो लोग ऐसे छांटिए जो स्वास्थ्य के प्रति जागरुक हैं। उन्हें मिनिमम बेसिक ट्रेनिंग दी जाए जिससे वे गांव में होने वाली बीमारियों पर नज़र रख सकें। ब्लॉक में ऐसे तीन लोग हों। प्रदेश के हित को ध्यान में रखते हुए क्राइसिस मैनेजमेंट अपना सुझाव दे। क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप संक्रमण की रोकथाम के साथ वैक्सीनेशन के लिए भी लोगों को जागरुक करें। इस महामारी से सीख लेकर अपने-अपने क्षेत्र में हम कुछ अलग करें। तीसरी लहर से मप्र को बचाना है।



अपने क्षेत्र के व्‍हाट्स एप्‍प ग्रुप एवं फेसबुक ग्रुप से जुड़ने,
फेसबुक पेज लाइक करने एवं
मोबाईल एप्‍प डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें

कृपया ज्‍यादा से ज्‍यादा शेयर करें। तथा कमेंट में अपने विचार प्रस्‍तुत करें।

सबसे पहले न्‍यूज पाने के लिए नीचे लाल बटन पर क्लिक करके सब्‍सक्राइब करें।

अगर दुनिया से पहले चीजों को जानने का जुनून है, खबरों के पीछे की खबर जानने का चस्का है, आपकी कलम में है वो ताकत, जो केवल सच लिखे, जिसे पढ़ने के लिए लोग बेताब हो।

तो आइये हमारे साथ और अपनी कलम की सच्‍चाई को सबके सामने रखने का मौका आज ही रजिस्‍टर करें हमारे साथ या फिर बिना रजिस्‍टर के भी अपने विचार सबके सामने रख सकते हैं। आपके विचारों को सबके सामने लाने का जिम्‍मा हमारा।

अभी रजिस्‍टर करें

अपने विचार रखें


मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!