March 1, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

भारी जल संकट बीच से गुजर रहे नगरवासी बूंद- बूंद को तरस रहे एसईसीएल के कर्मचारी

जिम्‍मेदार अधिकारी और ठेकेदार की कारगुजारी एवं मिलीभगत से फिल्टर प्लांट का उद्घाटन भी कर दिया गया और यहां पानाी को भी तरस रहे लोग।
मित्रों के साथ शेयर करें

नौरोजाबाद से शम्मी खान नियाजी की रिपोर्ट

उमरिया/ नौरोजाबाद:- इन दिनों भारी जल संकट बीच से गुजर रहे नगरवासी पानी के बूंद- बूंद को तरस रहे एसईसीएल के कर्मचारी जिले की विराट नगरी नौरोजाबाद में इन दिनों भारी जल संकट से त्राहिमाम मचा हुआ हैं। पानी की बूंद- बूंद के लिए नगरवासी काफी ज्यादा परेशान है। जल ही जीवन के नाम से हो रही है राजनीति – एसईसीएल के फिल्टर हाउस में जाकर जब इस मामले की जानकारी ली गई तो बताया गया कि करोड़ों की लागत से फिल्टर प्लांट बैठाया गया है। जुहीला नदी मे दो पंप बैठना था जो 6 महीने पहले से आ के रखा हुआ है, बिना पुरा कम किए हि अधिकारियों के द्वारा ठेकेदार का पूरा बिल पास कर दिया गया है। सामान रखे रहने के कारण ही आज ये स्थिति उत्‍पन्‍न हुई है। यदि काम पूरा किया गया होेेेेेेेेता तो आज एसईसीएल के कर्मचारी पानी के लिए तरस नही रहे होते। बात यहां तक सीमित नही है यहां के जिम्‍मेदार अधिकारी और ठेकेदार की कारगुजारी एवं मिलीभगत से फिल्टर प्लांट का उद्घाटन भी कर दिया गया और यहां पानाी को भी तरस रहे लोग। इस पूरी वारदातों से शासन को जमके चुना लगाया जा रहा है।

नगर के लोग आज कई दिनों से भारी जल संकट उभरते हुए नजर आ रहे है जब पुरा पानी सप्लाई ठप पड़ गया तो अधिकारियों की आंखें खुली और वह दोनों पंप जुहीला नदी में बैठाने के लिए ले गए। दूसरी ओर बताया गया कि जीएम लाइन, सबएरिया लाइन, यूनियन लीडरों की लाइनों, एक दिन में दो से तीन बार पानी दिया जाता है, जिससे पानी पूरा खत्म हो जाता है और आम लोगों और कर्मचारियों को भारी समस्या से गुजरना पड़ रहा है, लेकिन हमको नौकरी करना है इस वजह से अधिकारी से सवाल-जवाब नहीं कर सकते।

दुबलीकेट दिया जा रहा है फिल्टर हाउस में समान

नाम ना बताने के शर्त पर वहां के कर्मचारी द्वारा बताया गया कि फिल्टर हाउस में कार्यरत कर्मचारी हाजिरी लगाकर घूमते रहते हैं और जो समान हमको मार्केट से फिल्टर हाउस को देते हैं वह सामान 3 से 4 दिन में खराब हो जाता है और टूट जाता है। इसके पानी सप्लाई में भारी दिक्कत आ जाती है इस ओर बड़े अधिकारी किसी प्रकार का ध्यान नहीं देते हैं। बड़े पैमाने में भ्रष्टाचार का खेल चल रहा है। जल संकट से गुजर रहे मुंडी खोली, कृष्ण कालोनी, बर्मन लाइन, 5 न कालोनी, पीपल चौक, इस जगह में पानी की सब से ज्यादा दिक्कत आ खड़ी हुई है इस ओर नगर परिषद के अधिकारी भी कोई उचित कदम नहीं उठा रहे है। कोरोना जैसी महामारी और भीषण गर्मी को झेलते हुए नगर कि जनता बूंद-बूंद ब पानी के लिए परेशान नजर आ रही है।



अपने क्षेत्र के व्‍हाट्स एप्‍प ग्रुप एवं फेसबुक ग्रुप से जुड़ने,
फेसबुक पेज लाइक करने एवं
मोबाईल एप्‍प डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें

कृपया ज्‍यादा से ज्‍यादा शेयर करें। तथा कमेंट में अपने विचार प्रस्‍तुत करें।

सबसे पहले न्‍यूज पाने के लिए नीचे लाल बटन पर क्लिक करके सब्‍सक्राइब करें।

अगर दुनिया से पहले चीजों को जानने का जुनून है, खबरों के पीछे की खबर जानने का चस्का है, आपकी कलम में है वो ताकत, जो केवल सच लिखे, जिसे पढ़ने के लिए लोग बेताब हो।

तो आइये हमारे साथ और अपनी कलम की सच्‍चाई को सबके सामने रखने का मौका आज ही रजिस्‍टर करें हमारे साथ या फिर बिना रजिस्‍टर के भी अपने विचार सबके सामने रख सकते हैं। आपके विचारों को सबके सामने लाने का जिम्‍मा हमारा।

अभी रजिस्‍टर करें

अपने विचार रखें


मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!