March 1, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

अब 31 मई तक घर से बाहर नही निकल पायेंगे, शहडोल जिले में कोरोना कर्फ्यू बढ़ा

मित्रों के साथ शेयर करें

  • शहडोल जिले में शनिवार एवं रविवार सम्पूर्ण लॉकडाउन
  • मेडिकल की आवश्यता वाले मरीज ही निकले घर से बाहर
  • प्रातः 10.00 बजे तक सब्जी, किराना एवं दूध कर सकेंगे विक्रय
  • जिला प्रबंधन समिति की बैठक सम्पन्न

भारत में कोरोना की दूसरी लहर सिर्फ शहरों तक ही सीमित नहीं है, बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों को भी अपनी चपेट में ले लिया है। ग्रामीण क्षेत्रों में महामारी तेजी से फैल रही है। ऐसा लग रहा है कि वायरस की रोकथाम अभी समुचित तरीके से नही हो पा रही है। इसी कारण शहडोल जिले में कोरोना कर्फ्यू /लॉकडाउन 31 मई तक बढ़ा दिया गया है। ऐसा प्रतीत होता है कि पूरे मध्‍यप्रदेश में भी राज्‍य शासन के निर्देशानुसार कर्फ्यू /लॉकडाउन बढ़ाया जायेगा।

इस कारण दिनांक 07/05/2021 को कलेक्ट्रेट कार्यालय शहडोल के विराट सभागार में जिले में  COVID19 संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित करने हेतु जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक की बैठक Collector Shahdol डॉ० सतेन्द्र सिंह एवं पुलिस अधीक्षक श्री अवधेश गोस्वामी की उपस्थित में सम्पन्न हुई। बैठक में कलेक्टर ने जिले में बढ़ते हुए कोरोना संक्रमण के मद्देनजर जिला प्रशासन द्वारा कई महत्‍वपूर्ण निर्णय निम्‍नानुसार लिये गये –

  • शहडोल के समस्त नगरीय तथा ग्रामीण क्षेत्रों में अब दिनांक 31/05/2021 तक  प्रातः 6:00 बजे तक कोरोना कर्फ्यू /लॉकडाउन घोषित किया जाता है। उक्‍त कोरोना कर्फ्यू में किसी भी व्यक्ति को अपने घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं होगी अर्थात ग्राम के व्यक्ति ग्राम में ही रहेंगे एवं शहर के व्यक्ति शहर में ही रहेंगे।
  • जिला अंतर्गत समस्त ग्रामीण/शहरी क्षेत्रों में शनिवार एवं रविवार को पूर्ण रूप से कोरोना कर्फ्यू रहेगा। इस अवधि में किसी भी व्यक्ति को (मेडिकल स्टोर/ दूध विक्रेताओं) को छोड़कर घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं होगी।
  • आवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं की होम डिलीवरी अथवा घर-घर सुविधा के माध्यम से प्रातः 6:00 बजे से प्रातः 10:00 बजे तक के लिए संचालित किए जा सकेंगे प्रातः 10:00 बजे के बाद किसी भी प्रकार की वस्तुओं / सेवाओं (मेडिकल को छोड़कर) की गतिविधियों को अनुमति नहीं होगी समस्त दूध, सब्जी, फल विक्रेता होम डिलीवरी अथवा घर-घर सुविधा के माध्यम से प्रातः 6:00 बजे से प्रातः 10:00 बजे तक के लिए संचालित किए जा सकेंगे। इसके लिए नगर पालिका अधिकारी ठेलों को क्रमांक एवं वार्ड का आवंटन करते हुए प्रमाणित तख्‍ती  जारी करेंगे जिसे ठेले पर लगाना अनिवार्य होगा, अन्यथा कार्यवाही होगी।
  • समस्त सब्जी मंडियां लगाने पर पूर्णतया प्रतिबंध होगा एवं ग्रामीण क्षेत्रों में समस्त हाट बाजार पूर्णत: बंद रहेंगे।
  • जिला अंतर्गत समस्त आटा चक्की निरंतर खोले जाने की अनुमति होगी किंतु व्यक्तियों को प्रातः 6:00 से प्रातः 10:00 बजे तक ही चक्‍की जाने की अनुमति होगी।
  • अंतिम संस्कार में अधिकतम 10 व्यक्तियों की अनुमति होगी।
  • जिला के अंतर्गत समस्त शादी समारोह, सामाजिक समारोह, राजनैतिक गतिविधियां, खेलकूद, मनोरंजन, शैक्षणिक, सांस्कृतिक गतिविधियां, तथा धार्मिक कार्यक्रमों के आयोजनों को दिनांक 31 मई 2021 तक पूर्णत: प्रतिबंधित किया जाता है।
  • अत्यावश्यक सेवाएं देने वाले कार्यालयों को छोड़कर शेष कार्यालय 10% कर्मचारियों के साथ संचालित किए जाएंगे। आईटी कंपनियां, बैंक, बीपीओ, मोबाइल कंपनियों का सपोर्ट स्टाफ एवं यूनिट को छोड़कर, निजी कार्यालय भी 10% कर्मचारियों के साथ ही अपना कार्य संपादित करेंगे।
  • ऑटो रिक्शा में मेडिकल आपातकाल के लिए दो सवारी टैक्सी तथा निजी चार पहिया वाहनों में ड्राइवर तथा दो पैसेंजर को मास्क के साथ यात्रा करने की अनुमति होगी।
  • अनावश्यक रूप से घूम रहे दो पहिया एवं चार पहिया वाहन चालकों के विरुद्ध आपदा प्रबंधन अधिनियम मोटर व्हीकल एक्ट एवं अन्य सुसंगत प्रावधानों के अंतर्गत सख्त कार्यवाही की जावेगी।
  • गैस एजेंसीयां पूर्व की भांति घर-घर सुविधा के माध्यम से गैस सिलेंडर वितरण का कार्य कर सकेंगे। गैस एजेंसी के पासधारी कार्यकर्ता, एजेंसी से घर एवं घर से एजेंसी आने-जाने की अनुमति होगी। किसी भी परिस्थिति में गैस गोदाम / गैस एजेंसी से गैस सिलेंडर वितरण की अनुमति नहीं होगी।
  • जिले में अन्य राज्यों विशेषत: महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ तथा हरिद्वार कुंभ मेले से आने वाले समस्त नागरिक अपने आने की सूचना स्थानीय प्रशासन को देते हुए, सात दिवस होम क्वॉरेंटाइन में रहना अनिवार्य होगा।  साथ ही नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में अपना प्राथमिक परीक्षण कराना अनिवार्य होगा।  परीक्षण उपरांत यदि कोविड-19 संबंधी लक्षण प्रतीत होते हैं तो संबंधित व्यक्ति कोविड-19 टेस्ट कराएगा तथा जांच रिपोर्ट प्राप्त होने तक होम क्वॉरेंटाइन में रहना अनिवार्य होगा।
  • यदि किसी व्यक्ति को सर्दी, खांसी, बुखार, सांस लेने में तकलीफ, स्वाद या गंध महसूस नहीं होना, दस्त, उल्टी या शरीर में दर्द की शिकायत होने पर निकटतम स्वास्थ्य केंद्र में कोविड-19 जांच कराना तथा जांच रिपोर्ट प्राप्त होने तक होम क्वॉरेंटाइन में रहना अनिवार्य होगा। रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर होम आइसोलेशन हेतु अनुमति प्रदान किए जाने पर अनुमति की शर्तों का कड़ाई से पालन करना अनिवार्य होगा।
  • यदि किसी क्षेत्र में कोविड-19 पॉजिटिव मरीजों की सघनता पाई जाती है तो उक्त क्षेत्र को माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित किया जाएगा तथा उक्त क्षेत्र के सभी व्यक्तियों को माइक्रो कंटेनमेंट जोन के बाहर निकलने की अनुमति नहीं होगी।  माइक्रो कंटेनमेंट संबंधी सभी दिशानिर्देशों का पालन करना अनिवार्य होगा।

तथा अन्‍य निर्देशों को जारी करते हुये दण्‍ड का भी प्रावधान किया गया हैं। यदि कोई भी व्यक्ति जो इन लॉकडाउन उपायों एवं कोविड-19 प्रबंधन के लिए राष्ट्रीय निर्देश का उल्लंघन करेगा तो उसके विरुद्ध भारतीय दंड संहिता की धारा 188 The Madhya Pradesh Epidemic डिजीज कोविड-19 Regulation 2020 एवं आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 से 60 तथा शासन के अन्य सुसंगत प्रावधानों के अंतर्गत दंडनीय होगा।

अपने क्षेत्र के व्‍हाट्स एप्‍प ग्रुप से जुड़ने,
फेसबुक पेज लाइक, एवं
मोबाईल एप्‍प डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें

कृपया हमारी सभी न्‍यूज को ज्‍यादा से ज्‍यादा शेयर करें। तथा कमेंट में अपने विचार प्रस्‍तुत करें।

सबसे पहले न्‍यूज पाने के लिए नीचे लाल बटन पर क्लिक करके सब्‍सक्राइब करें।


मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!