May 24, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

टॉयलेट में ले जाते हैं मोबाइल तो, आपके लिए है यह खबर है, जानिए क्या-क्या हो सकते हैं नुकसान…

मित्रों के साथ शेयर करें

दिल्ली:  मोबाइल को पास में रखने की आदत तो सब की होती पर यदि आप मोबाइल फोन को बाथरूम में साथ लेकर जाते है. अगर ऐसा है तो इस आदत को आज ही आप बदल लीजिए, क्योंकि आपकी ये बुरी आदत आपको कई तरह से संक्रमित रोगों का शिकार बना सकते हैं, और आपको गंभीर परेशानियों से भी गुजरना पड़ सकता है। 

आपको बता दे कि अखबार और मैग्जीन की जगह हमारे मोबाइल फोन ने ले ली है, और अब लोग घंटो बाथरूम में मोबाइल का उपयोग कर रहे है, और सोशल साइट्स को चैक करना, फोन पर बात करना बाथरूम में बैठकर ही उपयोग कर लेते हैं,  लेकिन वे वह इस बात से बेखबर है कि, ऐसा करके वह एक साथ कई बीमारियों को न्यौता दे रहें है। हम आपको बताएंगे कि शौचालय में मोबाइल फोन ले जाना कैसे आपको संक्रमित कर सकता है:-

सबसे ज्याद पानी और कीटाणु बाथरूम में

घर के सभी जगहों में से बाथरूम में सबसे ज्यादा कीटाणु पाए जाते है. यहां नल, दरवाजों की कुंडी पर सबसे ज्यादा कीटाणु होते हैं, जो आपको कभी नजर नहीं आते. जब आप फ्रेश होने के वक्त मोबाइल ले जाते है तो आपको फोन मल बैक्टीरिया के संपर्क में आ जाता है. ऐसा ज्यादातर तब होता है जब आप फ्लश का इस्तेमाल करते है.

स्मार्टफोन में 10 गुना ज्यादा वायरस

बाथरूम में फोन ले जाना कितना खतरनाक साबित हो सकता है इसका अंदाजा आप लगा भी नहीं सकते। एरिजोना की एक यूनिवर्सिटी के शोधकर्ता के अध्ययन में सामने आया है कि स्मार्टफोन में टॉयलट सीट से 10 गुना ज्यादा बैक्टीरिया पनपते है। जब मल त्याग के बाद हाथ धोते हैं तो स्मार्टफोन को साफ करना भूल जाते हैं, नतीजतन यह संक्रमण का कारण बनते है। 

तनाव पैदा होने का कारण

टेक्नोलॉजी ने हमारे जीवन को कितना ही आसान क्यों न बना दिया हो लेकिन हर वक्त इसका उपयोग आपको तनाव देता है. बाथरूम में अगर आप फोन का इस्तेमाल करते रहेंगे तो आपको अवसाद होना स्वाभाविक है. फोन को बाथरूम में ले जाकर आप अपने दिमाग और स्वास्थ्य दोनों के साथ खिलवाड़ कर रहे है। बाथरूम में मोबाइल का उपयोग करने का एक और हेल्थ रिस्क है बवासीर, जो लोग बाथरूम में अपने फोन का इस्तेमाल करते है जाहिर बात है वह ज्यादा समय बाथरूम में बिताते है। लंबे समय तक शौच में बैठे रहने से रक्तस्त्राव की समस्या हो सकती है। जो बवासीर का प्रमुख कारण है। विशेषज्ञों के अनुसार, किसी को मल त्याग के दौरान 10 मिनट से ज्यादा नहीं बैठना चाहिए।

व्‍हाट्स एप्‍प ग्रुप-2 से जुडें     व्‍हाट्स एप्‍प ग्रुप – 1 से जु़डें       फेसबुक पेज को लाईक करें


मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!