July 17, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

माननीय आयोगों एवं वरिष्ठ कार्यालयों से प्राप्त शिकायतों को समय-सीमा में निराकरण किये जाने के दिये गये निर्देश

मित्रों के साथ शेयर करें

आज दिनांक 11 दिसम्बर, 2023 को श्री मो. यूसुफ कुरैशी, पुलिस अधीक्षक, जिला सिंगरौली द्वारा पुलिस अधीक्षक कार्यालय के रूस्मतजी कॉफ्रेसिंग हाल में मासिक अपराध समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक में श्री शिव कुमार वर्मा, अति. पुलिस अधीक्षक, जिला सिंगरौली, श्री पी.एस. परस्ते, नगर पुलिस अधीक्षक, विन्ध्यनगर, श्री कृष्ण कुमार पाण्डेय, एस.डी.ओ.पी. सिंगरौली, श्री राहुल सैयाम, एस.डी.ओ.पी. देवसर, श्री आशीष जैन, एस.डी.ओ.पी. चितरंगी, श्री उपेन्द्र सिंह यादव रक्षित निरीक्षक एवं जिले के समस्त थाना एवं चौकी प्रभारीगण उपस्थित हुए।

पुलिस अधीक्षक द्वारा अपराध समीक्षा के दौरान थानावार त्रि-वर्षीय तुलनात्मक भा.द.वि. के अपराध, लघु अधिनियम, प्रतिबंधात्मक कार्यवाही, महिला अपराध, अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के अपराधों की थानावार समीक्षा की गई। साथ ही सम्पत्ति संबंधी अपराध, चिन्हित अपराध एवं लंबित शिकायतों की समीक्षा की गई। जिन शीर्षाे में विगत वर्ष की तुलना में कम कार्यवाही पाई गई, उनमें संबंधित थाना प्रभारी को अधिक से अधिक कार्यवाही करने व अपराधो के नियंत्रण एवं रोकथाम हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।

पुलिस अधीक्षक मो. यूसुफ कुरैशी के द्वारा सी.एम. हेल्पलाइन में लंबित शिकायतो की समीक्षा की गई, कुछ थाना प्रभारियों के पास अधिक संख्या में शिकायतंे लंबित पाई गई, जिस पर संबंधित थाना/चौकी प्रभारी की क्लास लेते हुए शिकायत निराकरण न करने के संबंध में प्रत्येक थाना प्रभारी व चौकी प्रभारी से चर्चा की जाकर कारण जाना गया एवं अनधिकृत रूप से शिकायते लंबित रखने के लिए अर्थदंड से दंडित करने के लिए कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए गए। इसके अतिरिक्त सी.एम. हेल्पलाईन की लंबित शिकायतों के लिये थाना एवं अनुभाव स्तर पर शिविर आयोजित करने के निर्देश दिये।

पुलिस अधीक्षक ने थाना स्तर में लंबित सभी शिकायतों का निराकरण के लिए अभियान चलाकर सभी लंबित शिकायत के निराकरण के निर्देश दिए गए।।

लंबित गंभीर अपराध की थानावार समीक्षा की जाकर थाना प्रभारी को शीघ्र निराकरण करने के निर्देश दिये गये। साथ ही लंबे समय से लंबित अनसुलझे प्रकरणों में एस.आई.टी. का गठन कर प्रकरणो का शीघ्र निराकरण के लिये निर्देशित किया गया।

पुलिस अधीक्षक नें गुम इंसान की दस्तयाबी हेतु हरंसभव प्रयास किये जाने हेतु थाना प्रभारी के साथ-साथ राजपत्रित अधिकारी को विशेष अभियान के तहत दस्तयाबी किये जाने हेतु पाबंद किया गया।

अवैध शराब एवं अवैध मादक पदाथों की शिकायतों पर त्वरित संज्ञान लेकर सख्ती से कार्यवाही करने के निर्देशित किया गया, जिन क्षेत्रों में शिकायत प्राप्त हुई और तस्दीक में सही पाया जायेगा तो संबंधित थाना प्रभारी के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जायेगी। अवैध शराब का निर्माण/परिवहन/भण्डारण किसी भी स्तर पर न हो इसके लिये बीट प्रभारी से थाना प्रभारी की पूर्ण जिम्मेदारी है।

माननीय आयोगों एवं वरिष्ठ कार्यालयों से प्राप्त शिकायतों को समय-सीमा में निराकरण किये जाने के निर्देश दिये गये

संपत्ति संबंधी अपराधों पर नियंत्रण रखने एवं रोकथाम हेतु राजपत्रित अधिकारी एवं थाना प्रभारी को निर्देशित किया गया साइबर अपराध, महिला अपराध, एससी/एसटी एक्ट के अपराधों की रोकथाम एवं उनके त्वरित निराकरण हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।

फरार आरोेपियों की पता तलाश हेतु सम्पूर्ण कार्यवाही सुनिश्चित की जावें तथा आरोपी का फैमली ट्री तैयार कर पता तलाश के हरसंभव प्रयास किये जावे

महिला संबंधी अपराधों में कमी लाये जाने हेतु थाना स्तर पर जन-जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किये जायें


सभी पुलिस राजपत्रित अधिकारीगण को निर्देशित किया गया कि अनुभाग अंतर्गत थाना/चौकी में विवेचकवार समीक्षा करें। लंबित प्रकरणों के निराकरण के लिये उचित दिशा-निर्देश दें। लापरवाही बरतने वाले पुलिस अधिकारियों के विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही हेतु प्रस्ताव भेजें। इसी प्रकार थाना प्रभारी भी अपने थाने की विवेचकवार समीक्षा कर प्रकरणों का निराकरण सुनिश्चित करायें,रात्रि गश्त को सक्रियता एवं प्रभावी रूप से करने हेतु पाबंद किया गया। संवेदनशील स्थानों पर गश्त पाइंट बढ़ाने एवं रात्रि गश्त के दौरान चोरी, नकबजनी एवं असामाजिक तत्वों पर नियंत्रण हेतु निर्देशित किया गया फरियादियों से संवेदनशील होकर व्यवहार एवं उनकी शिकायतों पर त्वरित वैधानिक कार्यवाही हो प्रत्येक पुलिस अधिकारी/कर्मचारी सुनिश्चित करें


मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!