April 14, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

G20: भारत मंडपम में सजा मिनी भारत, 75 जिलों की अनूठी शिल्पकला से मेहमान होंगे रूबरू

मित्रों के साथ शेयर करें

भारत मंडपम में मिनी भारत का शिल्प बाजार सज गया है। देश के कोने-कोने से आए शिल्पकार इसमें भाग ले रहे हैं। इसके जरिए विदेशी मेहमानों को भारतीय कलाकृतियों और कला की बारीकियों से रूबरू कराया जाएगा।

भारत मंडपम में मिनी भारत का प्रतिनिधित्व करता शिल्प बाजार सज गया है। विदेशी मेहमानों के लिए यह मिनी भारत जैसा है जहां एक जिला एक उत्पाद जीआई टैग के तहत 75 जिलों की अनूठी कलाकृतियां प्रदर्शित की गई हैं। 

देश के कोने-कोने से आए शिल्पकार ले रहे भाग 

हॉल नंबर तीन में सजे इस अनूठे बाजार में देश के कोने-कोने से आए शिल्पकार भाग ले रहे हैं। विदेशी मेहमान यहां कश्मीर की कालीन, पंजाब की फुलकारी, मधुबनी पेंटिग्स, महाराष्ट्र के बांस के उत्पाद, असम की चाय, तंजावुर की पेंटिंग्स, पूर्वोत्तर राज्यों की लकड़ी व बांस से बनी वस्तुएं, हस्तकरघा, मिट्टी से बनी वस्तुएं, रंगाई-छपाई सब एक छत के नीचे देख सकेंगे। यह हॉल विविधता में एकता का प्रतीक है और भारतीय पारंपरिक कला व संस्कृति की झलक पेश करता है। 

यहां डिजिटल खरीदारी कर सकेंगे विदेशी मेहमान 

विदेशी मेहमानों को न केवल इन कलाकृतियों और कला की बारीकियों से रूबरू कराया जाएगा बल्कि वे डिजिटल खरीदारी भी कर सकेंगे। उन्हें यूपीआई के माध्यम से खरीदारी कराई जाएगी। शिल्प बाजार में कपड़े, जूलरी, हैंडिक्राफ्ट के सामान, बर्तन, सजावटी सामान, पेंटिंग्स, चाय की खरीदारी के साथ उन्हें बनता भी देखा जा सकता है। बिहार शिल्प स्टॉल में कलाकार मधुबनी पेंटिंग्स बनाती देखेंगी। यहां मेहमानों के लिए सेल्फी स्टैंड भी बनाया गया है जहां वे सेल्फी भी ले सकेंगे। 

इस प्रदर्शनी से प्रत्येक उत्पाद की बाजार क्षमता बढ़ेगी 

हॉल 3 में स्थापित, ‘शिल्प बाजार’ में खादी और ग्रामोद्योग आयोग और ट्राइफेड सहित केंद्रीय और क्षेत्रीय एजेंसियों के भी स्टॉल हैं। विदेश मंत्रालय के G20 सचिवालय में विशेष सचिव मुक्तेश के. परदेशी ने संवाददाताओं को बताया कि इस प्रदर्शनी-सह-बिक्री के माध्यम से, हम प्रत्येक उत्पाद की बाजार क्षमता को बढ़ा रहे हैं, जिसे राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा प्रदर्शित किया जाएगा। शिल्प बाजार भारत से सर्वश्रेष्ठ हस्तशिल्प वस्तुओं को एक छत के नीचे ले कर आया है और कलाकार अपनी कला का लाइव प्रदर्शन कर सकेंगे।



अपने क्षेत्र के व्‍हाट्स एप्‍प ग्रुप एवं फेसबुक ग्रुप से जुड़ने, के लिए यहां क्लिक करें

   लाइक फ़ेसबुक पेज     

   यूट्यूब चैनल लाइक एवं सब्सक्राइब   

   Follow on Twitter   

   टेलीग्राम पर ज्‍वाइन करें   

कृपया ज्‍यादा से ज्‍यादा शेयर करें। तथा कमेंट में अपने विचार प्रस्‍तुत करें।

सबसे पहले न्‍यूज पाने के लिए नीचे लाल बटन पर क्लिक करके सब्‍सक्राइब करें।


मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!