June 15, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

राहुल गांधी तुगलक लेन वाले बंगले में नहीं रहना चाहते.

लोकसभा हाउसिंग कमेटी की दी हुई 15 दिन की डेडलाइन खत्म; दूसरा घर तलाश रहे
मित्रों के साथ शेयर करें

New Delhi. राहुल गांधी 12 तुगलक लेन वाले घर में वापस नहीं रहना चाहते हैं। बुधवार 23 अगस्त को बंगले में वापसी का जवाब देने की डेडलाइन खत्म हो चुकी है। बंगले में वापसी के लिए 15 दिन के अंदर राहुल को लोकसभा कमेटी को जवाब देना था। जिसके लिए उन्होंने औपचारिक रूप से इंकार कर दिया है।

इस बंगले में राहुल गांधी 19 साल रहे थे। मोदी सरनेम केस में 2 साल की सजा मिलने के बाद 22 अप्रैल को उन्हें ये बंगला खाली करना पड़ा था।

दूसरे ऑप्शन तलाश रहे हैं राहुल
टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक वे इन दिनों घर के लिए कुछ और ऑप्शन भी खोज रहे हैं। राहुल 16 अगस्त को बहन प्रियंका के साथ 7 सफदरजंग लेन देखने गए थे। यह बंगला पहले महाराजा रणजीत सिंह का था।

घर छोड़ते वक्त राहुल ने कहा था कि उन्हें सच बोलने की सजा दी गई है। वो घर उन्हें भारत के लोगों ने दिया था, बावजूद इसके वे उस घर में वापस नहीं जाना चाहते जो उनसे छीन लिया गया था।

7 सफदरजंग लेन का यह बंगला महाराजा रणजीत सिंह गायकवाड़ को 1980 में संसद सदस्य के रूप में दिया गया था। वे 27 नवंबर 1989 तक सांसद रहे थे। 27 दिसंबर 1989 को उनका आवंटन रद्द कर दिया गया था। इसके बाद भी उनके कानूनी उत्तराधिकारियों ने बंगला खाली नहीं किया। 2001 में इन लोगों को बंगला खाली करने का आदेश दिया गया, जिसे पिछले साल दिल्ली हाई कोर्ट ने भी बरकरार रखा था।

2005 में अलॉट हुआ था 12, तुगलक लेन बंगला
राहुल गांधी 2004 में पहली बार अमेठी से सांसद बने। तब तक वो अपनी मां के साथ 10 जनपथ स्थित बंगले में रहते थे। सांसद बनने पर 2005 में उन्हें पहली बार 12 तुगलक लेन वाला बंगला अलॉट किया गया था।

ये दिल्ली के लुटियंस जोन में स्थित टाइप-8 बंगला है, जो हाइएस्ट कैटेगरी है। इस आलीशान बंगले में 5 बेडरूम, 1 हॉल, 1 डायनिंग रूम, 1 स्टडी रूम और सर्वेंट क्वार्टर हैं। राहुल गांधी इस बंगले में एक प्राइवेट गृह प्रवेश के बाद शिफ्ट हुए थे। इस सेरेमनी में सोनिया, प्रियंका, रॉबर्ट समेत उनके करीबी लोग ही शामिल थे। इसकी कोई सार्वजनिक तस्वीर मौजूद नहीं है।

मां सोनिया के बंगले में शिफ्ट हो गए थे राहुल
राहुल ने इसी साल 26 फरवरी को कांग्रेस के 85वें अधिवेशन में बताया था कि मेरे पास कोई घर नहीं है। राहुल 12, तुगलक लेन वाले सरकारी बंगले को खाली करने के बाद 10 जनपथ स्थित अपनी मां सोनिया गांधी के आवास में शिफ्ट हो गए थे।



अपने क्षेत्र के व्‍हाट्स एप्‍प ग्रुप एवं फेसबुक ग्रुप से जुड़ने, के लिए यहां क्लिक करें

   लाइक फ़ेसबुक पेज     

   यूट्यूब चैनल लाइक एवं सब्सक्राइब   

   Follow on Twitter   

   टेलीग्राम पर ज्‍वाइन करें   

कृपया ज्‍यादा से ज्‍यादा शेयर करें। तथा कमेंट में अपने विचार प्रस्‍तुत करें।

सबसे पहले न्‍यूज पाने के लिए नीचे लाल बटन पर क्लिक करके सब्‍सक्राइब करें।


मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!