July 18, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

SINGRAULI NEWS : जिले के फूड इंस्पेक्टर ने पत्रकार को ,गाली व जान से मारने की धमकी देने का ऑडियो हुआ वायरल

मित्रों के साथ शेयर करें

शासकीय कर्मचारियों के बारे में अक्सर शिकायत आती है कि वह आम जनता से ठीक प्रकार से व्यवहार नहीं करते। कई बार आम नागरिकों को धमकाते हैं और अभद्र भाषा में बात करते हैं।
कभी-कभी द्विअर्थी शब्दों का भी उपयोग करते हैं। ज्यादातर आम नागरिकों को यह पता नहीं होता कि उनके खिलाफ शिकायत कहां और किस नियम के तहत करनी है।
अज्ञानता के कारण लोग ठीक प्रकार से शिकायत नहीं कर पाते और इसीलिए कार्रवाई नहीं होती।अपने पद के अनुसार कार्य करे एवं किसी से अव्यवहारिक एवं अमर्यादित तरीके से बात न करे। परंतु सिंगरौली जिले के एक अधिकारी की कॉल रेकॉर्डिंग सोसल मीडिया में जोरदार तरीके से वायरल हो रहा है हालांकि संबंधित ऑडियो क्लिप को लेकर हम कोई भी पुष्टि नहीं कर रहे हैं।
ऑडिओ वायरल होने के बाद से अब हर कोई प्रशासनिक अधिकारी की कार्यशैली पर नाराजगी जाहिर कर रहा है इसके साथ ही जिस तरीके से फोन पर बातचीत हुई है वह ऑडियो किसी गुंडे बदमाश का प्रतीत हो रहा है।
जाने पूरा मामला
सिंगरौली जिले में सिस्टम को शर्मसार कर देने वाला ऑडियो वायरल हुआ है जिसमें जिले के फूड इंस्पेक्टर के द्वारा कथित रूप से एक पत्रकार को मां बहन की गालियां दी जा रही है और जान से मारने की धमकी दी जा रही है दरशल मिली जानकारी के अनुसार बीते दिन पिपरा गांव में ग्रामीणों की शिकायत पर फ़ूड अधिकारी जांच करने के लिए पहुंचे थे जहां बताया जा रहा है कि पिपरा गांव के ग्रामीणों को विगत 3 माह से राशन नहीं मिला था जिसकी शिकायत ग्रामीणों ने कलेक्टर से की थी जिस पर एसडीएम के निर्देश पर फ़ूड अधिकारी जांच करने के लिए गए थे .
लेकिन ग्रामीणों के कहे अनुसार वहां राशन नहीं दिलाया गया और ग्रामीणों को अधिकारी के द्वारा बोला गया कि आपको 1 महीने का राशन मिलेगा इसी बात को लेकर वहां ग्रामीण आग बबूला हो गए तब वहां मौजूद पत्रकार जो कि कवरेज के लिए गए थे ,
हालात को बिगड़ता देख पत्रकार ने काफी मशक्कत के बाद फूड अधिकारी को वहां से बचाया वहां से अधिकारी निकले और कुछ घंटों बाद पत्रकार अतुल दुबे को फोन के माध्यम से गाली गलौज कि उनका कहना है कि तुम कहां से आए हो तुम होते कौन हो मेरे बारे में लिखने वाले और बद्दी बद्दी मां बहन की गालियां दी और जान से मारने की धमकी दी ऑडियो में कह रहे हैं कि मैं भिंड का हूं तुम्हें गोली मार दूंगा ।
अधिकारी पर कार्रवाई को लेकर मामले की हुई शिकायत
फूड इंस्पेक्टर के द्वारा अमर्यादित शब्दों एवं व्यवहारिक तरीके से किए गए कार्यों से रुष्ठ से होकर ग्रामीणों सहित पीड़ित पत्रकार ने अब संबंधित मामले की शिकायत जिले के जिला कलेक्टर सहित पुलिस कप्तान से की है।
की गई शिकायत में ग्रामीणों एवं पत्रकार ने संबंधित मामले में है जल्द से जल्द कार्रवाई की मांग करते हुए अधिकारी का विरोध किया है। हालांकि जिस तरह से या घटना निकलकर सामने आई है वह किसी भी अधिकारी को इस तरह से व्यवहारिक एवं अमर्यादित व्यवहार बिल्कुल भी शोभा नहीं देता है
परंतु संबंधित अधिकारी के ऑडियो को सुनकर ऐसा प्रतीत होता है कि मानो संबंधित अधिकारी कोई अधिकारी ना होकर गुंडे बदमाशों की तरह कानून को अपने हाथों में लेने के लिए तत्पर है। दबंग तरीके से जिस तरह ऑडियो में अमर्यादित शब्दों का प्रयोग किया गया है वह सिविल आचरण अधिनियम को भी झुठला रहा है ।आचरण संहिता अर्थ का सार्वजनिक अधिकारियों के लिये अपने कर्त्तव्यों को पूरा करने के लिये सामान्य नियम हैं जो कि उनके व्यवहारों या निर्णयों का मार्गदर्शन करते हैं।
यह लोक सेवकों के लिये निर्धारित सामाजिक व्यवहारों, नियमों एवं उत्तरदायित्वों के समूह को संदर्भित करता है। यह सही निर्णय लेने, विशेष रूप से ऐसे मामलों में जहाँ वे लोक हित को बनाए रखने हेतु सशंकित होते हैं, में एक प्रमुख उपकरण है। यह लोक सेवकों के कुछ विशेष व्यवहारों, जैसे- हितों के संघर्ष, रिश्वत तथा अनुचित कृत्यों आदि को रोकने हेतु परिकल्पित एक व्यापक रूपरेखा है।
ऐसे में देखने वाली बात यह होगी कि अब संबंधित मामले में पीड़ित पत्रकार सहित ग्रामीणों की शिकायत के बाद आखिरकार प्रशासनिक अमला इस पूरे मामले को किस तरह से देखता है क्या आने वाले समय पर इस संबंधित मामले में किसी प्रकार की कोई कार्रवाई होती है या नहीं यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा।


मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!