July 18, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

सिंगरौली न्यूज़ : एनसीएल के दुधिचुआ क्षेत्र के महाप्रबंधक हैं श्री सतीश।

मित्रों के साथ शेयर करें

एनसीएल के दुधिचुआ नॉर्दर्न कोलफीलड्स लिमिटेड (एनसीएल) के दुधिचुआ क्षेत्र के महाप्रबंधक श्री सतीश झा का चयन कोल इंडिया की अनुषंगी कंपनियों में

सिंगरौली । नॉर्दर्न कोलफीलड्स लिमिटेड (एनसीएल) के दुधिचुआ क्षेत्र के महाप्रबंधक श्री सतीश झा का चयन कोल इंडिया की अनुषंगी कंपनी सेंट्रल माइन प्लानिंग एंड डिज़ाइन इंस्टीट्यूट लिमिटेड (सीएमपीडीआईएल) के निदेशक (तकनीकी) पद के लिए हुआ है। लोक उद्यम चयन बोर्ड (पीईएसबी) ने गुरुवार को श्री सतीश झा के नाम की अनुशंसा इस पद के लिए की।

कोल इंडिया लिमिटेड की विभिन्न अनुषंगी कंपनियों में ओपनकास्ट एवं अंडरग्राउंड कोल माइनिंग के क्षेत्र में 30 वर्षों से अधिक का अनुभव रखने वाले श्री सतीश झा ने 1990 में नागपुर विश्वविद्यालय से खनन में स्नातक की उपाधि प्राप्त की । उन्होने इंडियन स्कूल ऑफ माइन्स, धनबाद से एम. टेक व इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ प्रोजेक्ट्स एंड प्रोग्राम मैनेजमेंट से प्रोजेक्ट मैनेजमेंट में एक्जीक्यूटिव डिप्लोमा भी किया है।

श्री सतीश झा ने अपने कैरियर के दौरान कोल इंडिया लिमिटेड की अनुषंगी एसईसीएल, एनसीएल व सीएमपीडीआईएल में सेवाएँ दी हैं। उन्हें एनसीएल और एसईसीएल की अत्यधिक यंत्रीकृत खानों में परियोजना योजना, संचालन और प्रबंधन का बेहतरीन अनुभव है । साथ ही खुली खदानों में ड्रैगलाइन और भूमिगत खदानों में लॉन्गवॉल कार्यप्रणाली की तकनीकी विशेषज्ञता भी हासिल है।

अमलोरी व दुधिचुआ क्षेत्र के महाप्रबंधक

एनसीएल में उन्होने अमलोरी व दुधिचुआ क्षेत्र के बतौर महाप्रबंधक व अलग-अलग परियोजनों में बतौर परियोजना अधिकारी, योजना प्रभारी, उत्पादन प्रभारी, अनुभाग प्रभारी, अपनी सेवाएँ दीं हैं। उन्होने एनसीएल मुख्यालय में कॉर्पोरेट प्लानिंग व शोध एवं विकास विभागों में बतौर विभागाध्यक्ष महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है। श्री सतीश झा अपनी दृढ़ता, निर्णयात्मकता, प्रेरणा , बेहतरीन योजना व प्रबंधन व अन्य कुशलताओं के लिए जाने जाते है।

उन्हें एनसीएल में अमलोरी और निगाही खदान के बीच लॉक्ड इंटर-माइन बैरियर कोयले की सफलतापूर्वक योजना बनाने और निकालने के लिए व कोल इंडिया स्थापना दिवस पर वित्त वर्ष 2019-20 के लिए सर्वश्रेष्ठ विभागाध्यक्ष के लिए सम्मानित किया गया है।

उन्होने 2019 में ऑस्ट्रेलिया में 28 वें अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी में “सिंगरौली कोलफील्ड्स – खनन उपकरण चयन और पर्यावरण और पारिस्थितिकी प्रबंधन का सतत विकास” पर एक पेपर प्रस्तुत किया था । साथ ही उन्होने 2004 के दौरान एनईडीओ द्वारा जापान में आयोजित “स्वच्छ कोयला प्रौद्योगिकी” विषय पर कोन्फ्रेंस में भाग लिया था ।

गौरतलब है कि एनसीएल की उपलब्धियों में सहभागी रहे कंपनी के कोयला क्षेत्रों के विभिन्न महाप्रबंधकों का चयन कोल इंडिया की अनुषंगी कंपनियों के निदेशक पद के लिए हुआ है।


मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!