April 18, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

सिंगरौली न्यूज़ : कलेक्टर और कमिश्नर से 2 पार्षदों ने भूपेंद्र सेन की शिकायत, नगर निगम कर्मचारी जियो टैगिंग के लिए BPL हितग्राहियों से मांग रहे रिश्वत,

मित्रों के साथ शेयर करें

सिंगरौली । मध्यप्रदेश में सीएम शिवराज दावा करते हैं कि प्रदेश में भ्रष्टाचार कम हुआ है लेकिन लोकायुक्त की कार्यवाही इस बात की चीख चीख कर गवाही दे रहा है कि प्रदेश में लगातार अधिकारी कर्मचारियों के द्वारा रिश्वत मारा जा रहा है। अधिकारियों को मिलने वाली तनख्वाह कम लगती है और वह सरकार की योजनाओं को देने के नाम पर बीपीएल हितग्राहियों से भी रिश्वत लेने से पीछे नहीं हटते हैं अब सिंगरौली नगर पालिक निगम के पार्षद ने नगर निगम कर्मचारी पर बीपीएल धारियों से रिश्वत मांगने का आरोप लगाया है।

नगर निगम आयुक्त को पत्र लिखकर नगर निगम में भ्रष्टाचार की शिकायत,

बता दें कि वार्ड क्र.45 के पार्षद रामगोपाल पाल एवं पार्षद अनिल बैस अपीलीय समिति सदस्य ने कलेक्टर एवं नगर निगम आयुक्त को पत्र लिखकर नगर निगम में भ्रष्टाचार की शिकायत की है। पार्षद ल पत्र में लिखा कि बीएलसी हितग्राहियों से जीओ टैग किये जाने के एवज में कर्मचारी रिश्वत मांग रहे हैं। हितग्राही नगर निगम के चक्कर काट रहे हैं लेकिन उनकी कोई सुन नहीं रहा।

ननि सिंगरौली के द्वारा पार्षद ने आरोप लगाया है

वार्ड क्र.45 में ननि के कर्मचारी के द्वारा बीपीएल हितग्राहियों के जीओ टैग के नाम पर हितग्राहियों से 10 हजार रूपये की मांग की जा रही है। जिससे हितग्राहियों में उक्त नगर निगम कर्मचारी के खिलाफ असंतोष बढ़ रहा है। ऐसे कर्मचारी पर तत्काल कार्रवाई की जाय। पार्षद की शिकायत के बाद नगर निगम कर्मचारियों की जमकर किरकिरी हो रही है तो भाजपा सरकार पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं। सूत्र बताते हैं कि भाजपा सरकार में रिश्वत अब शिष्टाचार बन चुका है। बिना पैसे लिए कोई भी अधिकारी फाइल तक नहीं देखता। आम जनता कैसे मिल सकता है न्याय।


मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!