April 14, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

रीवा में लगातार बढ़ रही रेल सुविधाएं, 24 अप्रैल से नियमित हो जाएगी रीवा-इतवारी ट्रेन

मित्रों के साथ शेयर करें

नागपुर जाने में होगी आसानी, चार दिन सिवनी- छिदवाड़ा होकर रहेगा रूट

रीवा में रेल सुविधाओं में लगातार इजाफा हो रहा है। कुछ सालों पहले तक गिनती की चलने वाली ट्रेनों की संख्या व उनके फेरे भी बढ़ रहे हैं। इसी बीच खबर आई कि रीवा इतवारी ट्रेन 24 अप्रैल से नियमित हो जायेगी। लेकिन चार दिन इसका स्प्ट सिवनी- छिंदवाड़ा होकर रहेगा।

रीवा से इतवारी के बीच अभी ट्रेन सप्ताह में तीन दिन चलती है। तीन दिन यह ट्रेन बालाघाट-गोंदिया होकर चलती है। लेकिन 24 अप्रैल से रोवा इतवारी ट्रेन मंगलवार, गुरुवार, शुक्रवार और रविवार को भी रीवा से शाम 5.20 बजे इतवारी के लिये रवाना की जायेगी। जो अगले दिन सुबह 8.40 बजे इतवारी स्टेशन पर पहुंचेगी।

बताया गया है कि यह ट्रेन सतना मैहर कटनी होते हुये रात 9.40 बजे जबलपुर पहुंचेगी। इसके बाद यह ट्रेन रात 10.15 बजे कपुरा, रात 2.05 बजे नैनपुर से सिवनी, चौराई से होते हुये सुबह 5.15 बजे छिंदवाड़ा पहुंचेंगी। फिर सोने और सुबह 8.10 बजे इतवारी स्टेशन पर पहुंचेगी। यह नई ट्रेन इतवारी से शाम साढ़े पांच बजे रीवा स्टेशन के लिये रवाना होगी। बताया गया है कि वापसी पर यह ट्रेन इतवारीस्टेशन से सोमवार, बुधवार, शुक्रवार और शनिवार को रवाना की जायेगी। शाम साढ़े पांच बजे इतवारी स्टेशन से रवाना होने के बाद यह ट्रेन सोनेर, रामाकोना से रात 8.30 बजे छिंदवाड़ा, चौराई, सिवनी से 11.20 बजे नैनपुर, सुबह 3.40 बजे कुछपुरा 4.05 बजे जबलपुर, कटनी, मेहर, सतना से होते हुये सुबह 8.20 बजे रीवा रेलवे स्टेशन पहुंचेगी।

अभी तीन दिन चलती है ट्रेन


रीवा-इतवारी ट्रेन अभी रीवा से इतवारी के लिये सोमवार, बुधवार और शनिवार को रवाना होती है। जबकि वापसी पर इतवारी स्टेशन से यह ट्रेन मंगलवार, गुरुवार और रविवार को रीवा के लिये रवाना की जाती है। जाने और आने पर यह ट्रेन सतना, मैहर, कटनी, जबलपुर, नैनपुर, बालाघाट और गोंदिया स्टेशन से गुजरती है।

मरीजों को मिलेगा लाभ


रीवा इतवारी ट्रेन के नियमित संचालन से नागपुर इलाज कराने जाने वाले मरीजों को लाभ मिलेगा। रीवा से काफी संख्या में मरीज उपचार के लिये नागपुर जाते हैं। लेकिन ट्रेन के नियमित न होने से मरीजों को बस से वापस लौटना पड़ता है। जिससे उन्हें परेशानी होती है। इस ट्रेन को रोजाना चलाये जाने से मरीजों को वापसी के लिये भी ट्रेन मिल सकेगी



अपने क्षेत्र के व्‍हाट्स एप्‍प ग्रुप एवं फेसबुक ग्रुप से जुड़ने, के लिए यहां क्लिक करें

   लाइक फ़ेसबुक पेज     

   यूट्यूब चैनल लाइक एवं सब्सक्राइब   

   Follow on Twitter   

   टेलीग्राम पर ज्‍वाइन करें   

कृपया ज्‍यादा से ज्‍यादा शेयर करें। तथा कमेंट में अपने विचार प्रस्‍तुत करें।

सबसे पहले न्‍यूज पाने के लिए नीचे लाल बटन पर क्लिक करके सब्‍सक्राइब करें।

,

मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!