April 14, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

कोल माफिया पुलिस की मुस्तैदी को भी दे रहे हैं धता चोरी छिपे हो रहा रोड सेल और अवैध उत्खनन

मित्रों के साथ शेयर करें

पप्पू, नारायण, मोहन, पढ़ा रहा है पुलिस को पाठ

सांठगांठ से कोयले का अवैध ठीहा नगर में संचालित.

कोल माफिया पुलिस की मुस्तैदी को भी दे रहे हैं धता चोरी छिपे हो रहा रोड सेल और अवैध उत्खनन

नौरोजाबाद/ उमरिया:- उमरिया जिले के नौरोजाबाद थाना अंतर्गत नहीं रुक रहा कोयले का काला कारोबार माफिया दे रहा पुलिस की नाक में दम जिम्मेदार बने मूक दर्शक आखिर कब होगी माफियाओं के विरुद्ध कठोर कार्यवाही पूर्व में भी कई बार पप्पू अवैध कोयला खरीदने के कारण जेल जा चुका है उसके बावजूद भी आज भी पुलिस की नाक में दम करके रखा है मध्य प्रदेश की सबसे बड़ी घटना कोयले की बंद पड़ी खदानों शहडोल जिले के धनपुरी में हुई आधा दर्जन मौत हुई उसके बाद उमरिया जिले के एसईसीएल जोहिला एरिया द्वारा नौरोजाबाद क्षेत्र अंतर्गत विभिन्न बंद कालरी खदानों को पूर्ण रूप से बंद किए जाने की मुहिम चलाई गई साथ ही क्षेत्रीय जन प्रतिनिधिओं और पुलिस प्रशासन की अगुवाई में उच्चस्तरीय बैठक कर प्रभावी कार्यवाही की पहल भी की गई लेकिन कुछ दिनों के बाद मामला ठंडे बस्ते में जाते हुए नजर आया रहा है और माफिया फिर से अपने काम में लग गए है पूरा का पूरा ट्रक अगर कटनी तक जा रहा है तो बिना सांठगांठ के एक बोरी कोयला भी नहीं जा सकता तो यह तो पूरी गाड़ी है जो कटनी पहुंच जा रही है

पुलिस की मुस्तैदी को कर रहें हैं चैलेन्ज कर रहा पप्पू, नारायण, मोहन,

नगर वासियों की माने तो पप्पू और नारायण रोड सेल काम भी धड़ल्ले से कर रहे है इनका सहयोग कर रहा है मोहन जो की पैसे का पूरा लेनदेन उसी के माध्यम से होता है इन्हीं के द्वारा ड्राइवर्स को अपना खौफ दिखाकर खदान और कोल साइडिंग नौरोजाबाद छपरी के बीच कोयले को सड़क किनारे गिरवाकर एक ओर एसईसीएल को भारी राजस्व का चूना लगाया जा रहा हैं और कुछ पैसे देकर कोयला खरीद कर कटनी भेजने का काम जोरों से चल रहा है वही आए दिन ट्रक ड्राइवर्स और कोयला चोरों के बीच नोक झोक भी हो जाती हैं लेकिन अपना खौफ दिखाकर ड्राइवर्स का मुह बंद कर दिया जाता है।

बंद पड़ी खदानों से भी किया जा रहा हैं उत्खनन

कोयले की बंद पड़ी खदानों को लेकर उमरिया कलेक्टर डॉ कृष्ण देव त्रिपाठी और पुलिस अधीक्षक उमरिया ने एसईसीएल जोहिला एरिया के जिम्मेदार अधिकारीयों की जिला मुख्यालय में बैठक लेकर दो टूक समझाईस दी गई थी लेकिन पुलिस की मुस्तैदी के बाद भी आखों से काजल चुराने का दमखम रखने वाले शातिर कोल माफियाओं अभी भी बंद पड़ी खदानों के मुहाने में गरीब आदिवासिओं को धकेल रहे है और जिम्मेदार हाथ में हाथ बैठे देख रहे हैं

चंद पैसों के लिए क्षेत्र की सुरक्षा में सेंध लगा रहा कोल माफिया पप्पू

पुलिस की नाक के नीचे दाम देते नजर आ रहा है कोल माफिया पप्पू यदि कड़ी कार्यवाही नही की गई तो आने वाले समय में किसी बड़ी घटना से इनकार नही किया जा सकता है ऐसा नही है कि इस विषय में जिम्मेदारों को जानकारी नही है सब कुछ जानकारी मे होने के बाद भी उसमें लगाम ना लगा पाना सबसे गंभीर मुद्दा है जैसे कि माफियाओं को खुली छूट मौखिक रूप से दे दी गई है जिसमें कोल माफिया पप्पू उसका सेठ मोहन और सहयोगी नारायण प्रतिदिन अपनी दबंगई दिखाकर काले हीरे को नौरोजाबाद थाना से कटनी तक पहुंचाने का काम धड़ल्ले से चल रहा है एक ऒर एसईसीएल के सुरक्षा कवच क़े बीच से इतनी बड़ी गाड़ी निकल जाना और दूसरी और रात दिन बराबर उनकी सुरक्षा में लगी पुलिस की पेट्रोलिंग होना और तो और थाना की गाड़ी प्रतिदिन रात में गस्ती करती है और जगह जगह हुटर बजाकर लोगों को हिदायत भी देती है उसके बावजूद भी यह काले हीरे का काला व्यापार( गोरख धंधा) कैसे फल फूल रहा है और कैसे यहां से कटनी तक गाड़ी इनके आंख के नीचे से निकल जा रही है यह तो बिना सांठगांठ के हो ही नहीं सकता हैं


मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!