July 17, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

मध्यप्रदेश में कर्मचारियों का रिटायरमेंट 63 साल में, GAD का प्रस्ताव CM की टेबल पर

मित्रों के साथ शेयर करें

मध्य प्रदेश शासन द्वारा शासकीय कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति की आयु बढ़ाने के विकल्प का चयन कर लिया गया है। मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि सामान्य प्रशासन विभाग में प्रस्ताव बनाकर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की टेबल पर पहुंचा दिया है। आने वाली किसी भी कैबिनेट मीटिंग में यह प्रस्ताव मंजूर कर लिया जाएगा। विधानसभा में भी इस पर कोई आपत्ति नहीं उठाई जाएगी। 

मध्य प्रदेश गवर्नमेंट एंप्लाइज की रिटायरमेंट एज कब-कब बढ़ाई गई 

  • 1998- विधानसभा चुनाव से पहले तत्कालीन दिग्विजय सिंह सरकार ने शासकीय कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति की आयु 58 साल से बढ़ाकर 60 साल कर दी थी। दिग्विजय सिंह को इसका फायदा भी मिला था। 
  • 2018- विधानसभा चुनाव से पहले शिवराज सिंह चौहान सरकार ने कर्मचारियों के रिटायरमेंट की उम्र 60 साल से बढ़ाकर 62 साल कर दी थी। इसके कारण लाखों कर्मचारियों को सातवां वेतनमान और सरकार को कर्मचारियों के समर्थन मिला। 
  • 2023- विधानसभा चुनाव से पहले शिवराज सिंह चौहान सरकार कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति आयु 62 साल से बढ़ाकर 63 साल करने जा रही है। 

इस फैसले के कारण सरकार को 3 फायदे होंगे। अनुभवी कर्मचारी, इस साल नियुक्त होने वाले जूनियर कर्मचारियों को व्यवहारिक तौर पर प्रशिक्षित कर पाएंगे। वरिष्ठ कर्मचारियों का सरकार को आशीर्वाद प्राप्त होगा और चुनाव से पहले GPF (रिटायरमेंट फंड) का भुगतान नहीं करना पड़ेगा। यानी सरकारी खजाने का उपयोग अपनी योजना के अनुसार किया जा सकेगा। इस फैसले का सिर्फ एक नुकसान होगा, कुछ योग्य उम्मीदवार ओवर एज हो जाएंगे क्योंकि उनके हिस्से की भर्ती का नोटिफिकेशन जारी ही नहीं होगा।



अपने क्षेत्र के व्‍हाट्स एप्‍प ग्रुप एवं फेसबुक ग्रुप से जुड़ने, के लिए यहां क्लिक करें

   लाइक फ़ेसबुक पेज     

   यूट्यूब चैनल लाइक एवं सब्सक्राइब   

   Follow on Twitter   

   टेलीग्राम पर ज्‍वाइन करें   

कृपया ज्‍यादा से ज्‍यादा शेयर करें। तथा कमेंट में अपने विचार प्रस्‍तुत करें।

सबसे पहले न्‍यूज पाने के लिए नीचे लाल बटन पर क्लिक करके सब्‍सक्राइब करें।

खबरें फटाफट

,

मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!