June 17, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

मध्य प्रदेश समेत कई राज्यों में बारिश से भारी तबाही

मित्रों के साथ शेयर करें

शहर बन गए टापू, नदियां समंदर…

MP-ओडिशा समेत कई राज्यों में बाढ़ जैसे हालात, पहाड़ों पर भी आफत
कई राज्यों में इन दिनों मॉनसून की बारिश के चलते नदियां उफान पर हैं। कई इलाकों में बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं। मध्य प्रदेश, बिहार, ओडिशा, गुजरात में भारी बारिश से तबाही का मंजर है। मैदानों के अलावा पहाड़ी इलाकों का हाल भी बेहाल है। पहाड़ों में बारिश का आलम यह है कि कई जगह नदियां उफान पर हैं और रोजमर्रा की जिंदगी ठप हो रही है।

मध्य प्रदेश, गुजरात, ओडिशा समेत कई राज्य हैं, जहां पर बारिश के चलते नदियां पूरे उफान पर हैं। विभिन्न नदियों के रौद्र रूप ने नागरिकों के लिए चिंता बढ़ा दी है। ओडिशा की बात करें तो यहां महानदी का उफान डरा रहा है। 10 जिलों में बारिश का हाई अलर्ट है। अधिकारियों की छुट्टियां रद्द हो चुकी हैं। ओडिशा में मंदिरों की शिखाएं नदियों में डुबकियां लगा रही हैं। शहर टापू बन चुके हैं और नदियां समंदर। बारिश आई तो अपने साथ तबाही भी लेकर आई। राज्य के  करीब 10 जिले अलर्ट पर हैं, जहां बाढ़ के हालात बने हुए हैं। महानदी ने रौद्र रूप ले लिया है। मंदिर के ऊपर तक नदी का पानी आ गया है। आसमान से शहर टापू नजर आ रहा है। इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है। वहीं, 4 दिन भारी बारिश का अलर्ट है। सड़कों पर कमर तक पानी है और बड़ी-बड़ी कारें और बाइक से दम भरने वाले लोग एक बार फिर अपने पैरों पर भरोसा कर रहे हैं। जगतसिंह पुर में भी डेवी नदी उफान पर है। लहरों ने इंसानी बस्तियों का रुख किया है।

MP में आफत की बारिश ने नदी-नालों का रुख शहरों की ओर मोड़ा मध्य प्रदेश में बीते हफ्ते बाढ़ से बांध टूटने के खौफ से सरकार और प्रशासन को तीन दिन नींद नहीं आई। अब भी एमपी के कई जिले बाढ़ की चपेट में हैं। यहां नदियों की पूजा की जा रही है। प्रार्थना हो रही है कि रौद्र काल ना देखने को मिले। यहां कुदरत का कहर बरसा तो सड़कों में सैलाब आ गया। मध्य प्रदेश में आफत की बारिश ने नदी-नालों का रुख शहरों की ओर मोड़ दिया है। राजगढ़ में बारिश ने पूरा जोर लगा दिया है। खिलचीपुर का आधा मंदिर पानी में डूब चुका है। वहीं मंदिर मार्ग झरने में तब्दील हो गया। पानी का बहाव इतना तेज है कि मंदिर दर्शन करने गए भक्त फंस गए तो प्रशासन एक्शन में आया और लोगों को सुरक्षित निकालने की कोशिश तेज हो गई।

पानी सबकुछ बहा ले जाने पर अमादा है गलियों से होता हुआ पानी नालों को खूंखार बना रहा है। जिले में 3 दिनों की लगातार बारिश ने रायगढ़ को टापू बना दिया है। पार्वती खिलचीपुर गाढ गंगा नदी उफान पर है। मध्य प्रदेश के एक दर्जन से ज़्यादा जिलों में लगातार भारी बारिश का दौर जारी है। वहीं पिछले 3 दिनों से भोपाल नर्मदा पुरम संभागों में लगातार बारिश के चलते नदी नाले उफान पर है। डैम के गेट खोल दिए गए गए हैं। भोपाल के कई गांवों के रास्ते शहर से कट गए हैं। स्कूलों में पानी भर गया है, जिसकी वजह से नर्मदा पुरम और भोपाल समेत कई जिलों की स्कूलों की छुट्टी घोषित करनी पड़ी है।

नर्मदा, चंबल, बेतवा नदियां उफान पर लगातार हो रही बारिश से नर्मदा, चंबल और बेतवा समेत अधिकांश नदियां उफान पर हैं। लोगों को अलर्ट किया जा रहा है। अभी कुछ दिनों तक ये मुसीबत कम नहीं होने वाली है। जबलपुर, भोपाल और इंदौर में भारी से भारी बारिश का पूर्वानुमान है। भोपाल के आसपास के जिलों रायसेन, विदिशा और सीहोर में भारी बारिश का अलर्ट है।



अपने क्षेत्र के व्‍हाट्स एप्‍प ग्रुप एवं फेसबुक ग्रुप से जुड़ने, के लिए यहां क्लिक करें

   लाइक फ़ेसबुक पेज     

   यूट्यूब चैनल लाइक एवं सब्सक्राइब   

   Follow on Twitter   

   टेलीग्राम पर ज्‍वाइन करें   

कृपया ज्‍यादा से ज्‍यादा शेयर करें। तथा कमेंट में अपने विचार प्रस्‍तुत करें।

सबसे पहले न्‍यूज पाने के लिए नीचे लाल बटन पर क्लिक करके सब्‍सक्राइब करें।

खबरें फटाफट

,

मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!