June 17, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

सिंगरौली जिले से तत्कालीन सरई थाना प्रभारी को हटाए जाने के बाद क्षेत्र की जनता में खुशी का माहौल,क्षेत्र में बढ़ रहे अपराध पर अंकुश लगाने में नाकाम थे थाना प्रभारी

मित्रों के साथ शेयर करें

आपको बता दे कि तत्कालीन सरई थाना प्रभारी को हटाकर नेहरू सिंह खंडाते को सरई थाना प्रभारी बनाये जाने के बाद क्षेत्र की जनता में खुशी का माहौल है।आपको बता दे कि तत्कालीन सरई थाना प्रभारी के कार्यकाल में क्षेत्र में अपराध का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा था।महिलाओं के प्रति भी अपराध का ग्राफ तेजी से ऊपर जा रहा था।जिसको लेकर क्षेत्र की जनता अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रही थी।

महीनों बाद भी अपहरण व बलात्कार के आरोपी को गिरफ्तार करने में थे नाकाम

सरई थाना क्षेत्र अंतर्गत एक दिल दहला देने वाले मामले के बाद भी सरई थाना प्रभारी आरोपी को महीनों बाद गिरफ्तार करने में नाकाम रहे।आपको बता दे सरई थाना क्षेत्र में महिला का अपहरण कर बलात्कार करने वाला आरोपी को महीनों बाद भी गिरफ्तार न कर पाना।कही न कही थाना प्रभारी के कार्यप्रणाली पर सवाल खड़ा कर रहा था।एक तरफ प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान अपराध को जड़ से खत्म करने व महिलाओं की सुरक्षा की बात करते है वही सरई पुलिस अपहरण व बलात्कारी को पकड़ने के प्रति कोई दिलचस्पी नही दिखा रही थी।

कांग्रेस नेता पर हो चुके थे हमले,कई अपराध की बढ़ोत्तरी

सरई थाना क्षेत्र में कांग्रेस के प्रदेश पदाधिकारी राजकुमार दीपांकर के साथ हुए मारपीट ने भी यह बयां कर दिया था कि क्षेत्र में अपराध का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है वही अपराधी बेखौफ घटना को अंजाम दे रहे थे।लेकिन सरई थाना प्रभारी इन सब पर अंकुश लगाने में एकदम से विफल रहे

कांग्रेस पार्टी ने पुलिस अधीक्षक सहित DIG को ज्ञापन सौंप किया था कार्यवाही का मांग

युथ कांग्रेस के जिलाध्यक्ष अध्यक्ष सूर्या द्विवेदी ने पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंप अपहरण व बलात्कार के आरोपी को गिरफ्तार करने की मांग की थी वही कांग्रेस के कार्यवाहक जिला अध्यक्ष रमाशंकर शुक्ला व प्रदेश सचिव अमित द्विवेदी सिंगरौली दौरे पर आए DIG श्री शुक्ला को ज्ञापन सौंप सरई कांड में कार्यवाही की मांग की गई थी लेकिन इन सब के बावजूद सरई के तत्कालीन थाना प्रभारी महीनों बाद भी आरोपी को गिरफ्तार नही कर पाए।क्षेत्र में बढ़ते अपराध व आम जनमानस में थाना प्रभारी के प्रति बढ़ता आक्रोश देखते हुए तत्कालीन थाना प्रभारी को सरई से हटाकर नेहरू सिंह खंडाते को कमान दिया गया है।

आखिर सिंगरौली से क्यो नही हो रहा निरीक्षको का मोह भंग

सिंगरौली जिले के आम जनता के जुबान पर सिर्फ एक ही सवाल है कि आखिर सिंगरौली के कई थाना प्रभारी यैसे है जिनका सिंगरौली जिले से मोह भंग नही हो रहा है।तबादले के बाद महीना दो महीने में वापस सिंगरौली जिले में अपनी पदस्थापना करवा वापस आ जाते है।समझ से परे है कि क्या यह सिंगरौली जिले की जनता से थाना प्रभारियों का लगाव है या चारागाह बन चुका सिंगरौली जिले के गांधी जी उन्हें बार बार सिंगरौली खींच लाते है।


मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!