May 24, 2024

VINDHYA CITY NEWS

सच्‍ची खबर अच्‍छी खबर

*काला हिरण शिकार केस : पुलिस मुठभेड़ में एक शिकारी की भी हुई है मौत, 7 शिकारियों के होने की पुष्टि*

मित्रों के साथ शेयर करें

गुना. मध्य प्रदेश के गुना जिले के आरोन के अंतर्गत आने वाले बरखेड़ा गांव में पांच काले हिरण और एक राष्ट्रीय पक्षी मोर का शिकार करके ले जा रहे शिकारियों के साथ हुई पुलिस की मुठभेड़ में 3 पुलिसवालों की मौत के मामले में बड़ा अपडेट सामने आया है। बताया जा रहा है कि, इस मुठभेड़ में एक शिकारी की भी मौत हुई है। मुठभेड़ में मारे गए शिकारी का नाम नौशाद खान बताया जा रहा है, जो गुना जिले के राघोगढ़ का ही रहने वाला था। वहीं, मुठभेड़ में घायल हुए पुलिस वाहन चालक ने बताया कि, जिन शिकारियों से मुठभेड़ हुई है उनकी संख्या 7 थी। इस संबंध में मुख्यमंत्री शिव राज सिंह चौहान ये स्पष्ट कर चुके हैं कि, दोषियों के खिलाफ ऐसी कारर्वाई होगी कि, इतिहास में याद रखी जाएगी।

मामले को लेकर जिले के प्रभारी मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर का भी बयान सामने आया है। उनका कहना है कि, मुठभेड़ में जान गंवाने वाले तीनों पुलिसकर्मियों को शहीद का दर्जा दिया गया है। वहीं, राजकीय सम्मान के साथ तीनों पुलिसकर्मियों को अंतिम विदाई दी जाएगी। साथ ही, शोकाकुल परिवार को सरकार की ओर से एक एक करोड़ रुपए सम्मान राशि के रूप में दिये जाने के साथ परिवार के एक एक सदस्य को शासकीय सेवा में पदस्थ किया जाएगा।

ग्वालियर IG हटाए गए

मामले को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी एक्शन मोड में हैं। घटना के मात्र आधे घंटे के भीतर मुख्यमंत्री ने जिले के साथ साथ प्रदेश के आला अधिकारियों की बैठक बुलाई, जिसमें पूरे मामले की समीक्षा की। इसी दौरान शिवराज ने सख्त एक्शन लेते हुए ग्वालियर आई जी अनिल शर्मा को तत्काल उनके पद से हटा दिया है। मुख्यमंत्री ने ये फैसला घटना के बाद घटनास्थल पर देर से पहुंचने के चलते लिया है। सीएम ने ट्वीट करते हुए इसकी पुष्टि भी कर दी है। उन्होंने लिखा-‘घटना के बाद घटनास्थल पर पहुंचने में विलंब करने पर मैंने ग्वालियर के आईजी को तत्काल हटाने का फैसला लिया है।’

राजकीय सम्मान के साथ होगा अंतिम संस्कार

उच्चस्तरीय बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने अहम निर्णय लेते हुए मुठभेड़ में जान गंवाने वाले तीनों पुलिसकर्मियों को शहीद का दर्जा देने के साथ साथ शोकाकुल परिजन को एक एक करोड़ रुपए सम्मान निधि देने का भी फैसला लिया है। वहीं, सीएम ने शहीद पुलिसकर्मियों के परिवार के एक एक सदस्य को शासकीय सेवा दिलाने की भी बात कही है। सीएम ने ये भी कहा कि, तीनों का पूरे सम्मान के साथ अंतिम संसकार किया जाएगा। सीएम ने इस संबंध में भी ट्वीट करते हुए लिखा कि, ‘पुलिस के साथी श्री राजकुमार जाटव, श्री नीरज भार्गव, श्री संतराम को शहीद का दर्जा देकर इनके परिवार को एक-एक करोड़ रुपये सम्मान निधि दी जाएगी।’ साथ ही, ‘परिवार के एक सदस्य को शासकीय सेवा में लिया जाएगा। पूरे सम्मान के साथ इनका अंतिम संस्कार होगा।’



अपने क्षेत्र के व्‍हाट्स एप्‍प ग्रुप एवं फेसबुक ग्रुप से जुड़ने, के लिए यहां क्लिक करें

   लाइक फ़ेसबुक पेज     

   यूट्यूब चैनल लाइक एवं सब्सक्राइब   

कृपया ज्‍यादा से ज्‍यादा शेयर करें। तथा कमेंट में अपने विचार प्रस्‍तुत करें।

सबसे पहले न्‍यूज पाने के लिए नीचे लाल बटन पर क्लिक करके सब्‍सक्राइब करें।

खबरें फटाफट


मित्रों के साथ शेयर करें
error: Content is protected !!